पश्चिम चंपारण /केंचुआ से बने जैविक खाद से किसान करें खेती : वैज्ञानिक

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

रवि रंजन कुमार पांडे की रिपोर्ट

नये तरीके से खेती करने की दी गई जानकारी 

 

भारतीय इंटर कॉलेज, गहिरी में एक दिवसीय किसानों को प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। इसमें गहिरी, दक्षिणी तेलहुआ, डेगौना, शामपुर कोतराहा के 50 किसानों ने भाग लिया। इसमें जैविक खेती व केंचुआ खाद के उत्पादन, उसका लाभ व बनाने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से चर्चा की। कार्यक्रम में प्रशिक्षण देने का कार्य डॉक्टर गंगवार व डॉक्टर धीरू तिवारी ने किया। इस दौरान केंचुआ और जैविक खाद से किसान को खेती करने की भी जानकारी दी गई । सर्वप्रथम आत्मनिर्भर किसान उत्पादक कंपनी के निदेशक मंडल के सदस्य सुरेंद्र सिंह ने केवीके के वैज्ञानिकों का स्वागत किया। ततपश्चात स्थानीय किसान सोनेलाल ने अपने यहां खेती के तौर-तरीकों व अन्य प्रमुख समस्याओं के बारे में विस्तार से वैज्ञानिकों को बताया। किसानों को खेती के दौरान आने वाले समस्या के निदान के वैज्ञानिकों ने बताया । इसके बाद डॉक्टर गंगवार ने खेती की उन्नत तकनीकों, नवाचारी प्रयोगों व समेकित खेती प्रणाली के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने शहद उत्पादन, मशरूम उत्पादन, बकरी पालन व मिश्रित खेती के बारे में जानकारी दिया ।प्रशिक्षण में डाक्टर धीरू तिवारी ने बर्मी कम्पोस्ट को बनाने की पुरी प्रक्रिया के बारे मे किसानों को बताया ।साथ ही उसके लाभ व भूमि की उर्वरता को बढाने से संबंधित जानकारी विस्तार से किसानों को दिया ।मौके पर सिद्धार्थ कुमार, भरत सिंह, गंगा सागर सहित महिला और पुरुष किसान मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code