नवादा – बिहार एवं झारखंड सीमा पर दो गाँव के ग्रामीणों के बीच किया गया समझौता

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

दिनेश गुप्ता की रिपोर्ट

नवादा/ जिले के बिहार और झारखंड सीमा पर बसे दो गांव गोविंदपुर थाना क्षेत्र के बाराटांड़ और सतगावां थाना के कटैया के ग्रामीणों के बीच रास्ता व पाइन को लेकर विवाद हो गया था, विवाद को झारखंड के सतगावां थाना व नवादा के गोविंदपुर थाना के पुलिस व पदाधिकारी व उच्च अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच कर दो गांवों के लोगों को समझाने के बाद शांत कराया गया था। विवाद को लेकर उच्च पदाधिकारी चंद्रशेखर आजाद के आदेशानुसार एक कमेटी का गठन किया गया जिसमें कटैया ग्राम से सुरेश सिंह एवं बाड़ाताड़ ग्राम से गोविंदपुर पंचायत के मुखिया अफरोजा खातून को रखा गया जो रविवार को स्थानीय थाना गोविंदपुर कैंपस में स्थानीय सरपंच अरुण कुमार शर्मा की अध्यक्षता में एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी कुंज बिहारी सिंह अंचलाधिकारी शैलेंद्र कुमार थाना अध्यक्ष डॉक्टर नरेंद्र प्रसाद की उपस्थिति में पंचायत का गठन किया गया जिसमें दोनों पक्ष के बयान को सुनकर मुखिया एवं ग्रामीणों के विचारों को पदाधिकारी एवं मुखिया तथा संगठन के माननीय व्यक्ति ने विचार कर निर्णय लिया गया कि पूर्व में मापी किए हुए उत्तर साइड वाले मार्ग और बाराटांड़ के ग्रामीणों को कटैया ग्राम से उत्तर दक्षिण पश्चिम तरफ सरकारी भूमि में 4 फीट टेडूआ रहेगा जिसका उपयोग बाराटांड़ के ग्रामीणों के द्वारा किया जाएगा बचे हुए 4 फीट जमीन छोड़कर कटैया के ग्रामीणों के द्वारा सड़क बना लिया जाएगा भूमि कम पड़ने पर कटैया के ग्रामीण अपनी सीमा का रैयती भूमि का उपयोग करेंगे बाराटांड़ गांव से दक्षिण भगवती स्थान से खावा तक बने हुए पाइन के पूरब तरफ से 6 फीट जमीन छोड़ कर बाराटांड़ के ग्रामीणों के द्वारा गैरमजरूआ जमीन एवं रैयती जमीन पर सड़क का निर्माण करेंगे यदि जमीन कम पड़ गया तो कटैआ के ग्रामीणों के द्वारा रैयती जमीन देकर मार्ग बनाएंगे जो सुरेश सिंह एवं बाराटांड़ के ग्रामीणों के भूमि को स्वेच्छा से लिया जाएगा जिसके जिम्मेवारी पूर्व मुखिया को दिया गया है साथ ही साथ  पाइन एवं टेडूआ से पटवन का कार्य बाराटांड़ के ग्रामीणों करेंगे। साथ ही साथ या भी निर्देश दिया गया है कि कार्य बाराटांड़ के ग्रामीणों के द्वारा किया जाएगा साथ ही साथ या भी निर्देश दिया गया है कि दोनों गांव के लोगों को पूर्व की तरह भाईचारा बनाकर रहना है दोषी पाए जाने वाले व्यक्ति के ऊपर सामाजिक एवं आर्थिक दंड पंचायत के लोगों के द्वारा दिया जाएगा। दोनों ग्राम के ग्रामीणों को पंचायत के फैसले के ही अनुसार सरहद पर कार्य करना होगा यदि किसी प्रकार का कोई विवाद होने पर फैसले के अनुसार ही दंड दिया जाएगा गौरतलब है कि इसी विवाद को लेकर पूर्व में दोनों ग्राम के ग्रामीण आपस में भिड़ गए थे जिसमें दोनों तरफ के कई लोग घायल हो गए थे मामला बढ़ता देख घटनास्थल पर कई उच्च पुलिस पदाधिकारी एवं अन्य पदाधिकारी को बुलाकर मामला को शांत कराया गया था वही आज के इस बैठक में दोनों ग्राम के कई ग्रामीण मौजूद रहे और किये गए फैसले पर अपना सहमति दिया ।
मौके पर सीओ शैलेन्द्र कुमार, बीडीओ कुंज बिहारी सिंह, मुखिया अफरोजा खातून,बालेश्वर यादव,  उमेश यादव ,गिरधारी यादव ,द्वारिक प्रसाद ,सरजू प्रसाद के अलावा दोनो गांव के अन्य कई लोग उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *