मधुबनी – हरलाखी /सुहागरात के कुछ पल, पहले ही विधवा हो गई दुल्हन खुदा का मंजुर नही था रिस्ता

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

अंजुम की रिपोर्ट

इस जहां में सबसे बेवफा मौत होती है। यह किसी को कभी भी अपने आगोश में ले सकती हैं। नई नवेली दुल्हन के पती को अपने पास बुला कर मौत ने यह सिद्ध भी कर दिया ।दुल्हन के हाथों की मेहंदी अभी सुखी भी नहीं थी और उसकी दुनिया हमेशा के लिए गुजर गई। हमको क्या पता था कि गुरुवार को जो पति उसके जीवन की बंधन की शुरुआत करता की भगवान को मंजूर नही हुआ, की उसी बीच में हमेशा के लिए छोड़ जाएंगे।

ना जी भर के देखा न कुछ बात की बड़ी आरजू थी मुलाकात की

यह मौत को क्या पता हमेशा के लिए सुना सकती हैं। बताया गया कि गुरुवार को रात करीब 1:00 बजे खिड़की के रास्ते पर घुस कर युवक को डस कर वापस खिड़की के रास्ते निकल भाग लिया। उसके बाद दुल्हन के रोने की आवाज को सुन सब लोग जागे आनन-फानन में परिजनों ने झाड़-फूंक करवाया। एक तांत्रिक के पास ले गए ।जहां काफी देर के बाद उसे पीएससी बासोपट्टी लाया गया ।जहां से चिकित्सकों ने उसे मधुबनी रेफर कर दिया ।जहा मृत घोषित कर दिया ।
फिर परिजनों ने युवक की शव को वापस घर लाया ।घर आने के बाद लोगों के कहे अनुसार पुनः शव को तांत्रिक के पास ले गए। और यह सिलसिला पूरे दिन चलता रहा ।इधर पति की मृत्यु के बाद विधान सदमे में है। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो रहा है। गांव में मातम छाया हुआ है। पूरा इलाका में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है ।गांव के कई बुजुर्गों का कहना है। कि ऐसा दुखद घटना आज तक सुने तक नहीं थे ।सुहागरात के पहले पति की मौत हो जाए ।

दुल्हन बार-बार बेहोश हो रही है ।पत्थर सी हो गई है ।परिजनों का भी रो रो कर बुरा हाल है। आंखों में आंसू सुखने का नाम भी नही ले रहा है । गांव वालों भी यह कहते दिखे कि ऊपरवाला ऐसा दिन दुनिया किसी को भी ना दिखाएं ।मामला हरलाखी थाना क्षेत्र के सुखवासी गांव का है। युवक की पहचान स्वर्गीय उमेश राय के 22 वर्षीय पुत्र नीतीश कुमार राय के रूप में बताया गया है ।घटना गुरुवार देर रात की है। जानकारी के अनुसार बुधवार की रात थाना क्षेत्र के बुधवार की रात हिंदू रीति रिवाज के साथ युवक की शादी बासोपट्टी थाना क्षेत्र के घाट मठिया गांव निवासी जोगिंदर राय के पुत्री विनीता कुमारी से हुई ।शादी की रात दोनों पक्षों में खुशी का माहौल था ।शादी के अगले दिन पिता ने नम आंखों से अपनी पुत्री की विदाई की। दुल्हन के ससुराल आने के बाद महिलाओं ने गीत गाकर रस्म पूरी की इसके बाद दूल्हा-दुल्हन अपने कमरे में सोने चले गए ।लेकिन खुदा को यह खुशी मंजूर नहीं था

अभी रात पुरा बाकी ही था न जी भर के देखा न कुछ बात की बड़ी आरजू थी मुलाकात की हिंदू रीति रिवाज के मुताबिक शादी के बाद नीतीश और पत्नी विनीता अपने ससुराल पहुंची 1 घंटे बाद ही यह हादसा हो गया ।वह अपने पति का दीदार भी नहीं कर पाई थी। कि उनका असमय मौत हो गया ।इस हादसे से भूरी पत्थर के सामान हो गई ।उसकी आंखों के आंसू सूख गए। पथराई आंखों से सब कुछ देखती रहे बेहोश होती तो लोग होश में लाने की कोशिश करते रहे ।उसकी दुनिया बसने से पहले ही गुजर गई थी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *