सुपौल – कोशी समस्या राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

रिपोर्ट-प्रमोद कुमार 

सुपौल /आजादी केवल इंसानों को नहीं बल्कि नदियों को भी चाहिए , मानवता को अगर बचाना है तो नदियों को बचाना होगा एन ए पीएम के राष्ट्रीय समन्वय मेधा पाटकर ने कोसी महापंचायत में कोसी की समस्या पिछली और वर्तमान सत्ताधारी पार्टियों की देन है । राजनीतिक पार्टियों को आह्वान करते हुए उन्होंने कहीं की जन आंदोलन की ताकत को समझिए और आंदोलन के साथ खड़े होने की ताकत दिखता है । प्रकृति की पूंजी को महत्व देनी चाहिए हम विकास चाहते हैं। विनाश नहीं बिहार में पहले बाढ़ आती थी तो खुशहाली का प्रतीक होता था लेकिन अब बाढ़ कहर लेकर आती है ।

मेधा पाटेकर सुपौल जिला मुख्यालय स्थित वार्ड नंबर 15 में एन ए पीएम के जिला संयोजक रामचंद्र यादव के आवास पर भोजन के बाद कोशी के अंदर जाकर गांव में लोगों की पीड़ा को समझा और देखा जहां कोशी मूल रूप से अभी बहती है ।उसी में एक आदमी साल 2 साल में दूसरे जगह घर बनाते हैं फिर एक जगह से दूसरी जगह जाता है काफी समस्याएं झेलनी पड़ती है ।कोशी में आवागमन की समस्या है स्वास्थ्य सेवाएं अच्छी नही है ।आगे जनांदोलन की रूपरेखा तैयार होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *