मधुबनी – बिस्फी /परियोजना में सेविका/सहायिका चयन में अनियमितता के आरोपों की जांच हेतु त्रि-सदस्यीय जांच टीम का गठन । 2.2. मधुबनी – जिला पदाधिकारी द्वारा किसानों की समस्याओं को दूर करने के लिए समुचित कार्रवाई हेतु अनुरोध

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

रिपोर्ट- न्यूज़ डेक्स

मधुबनी / नीरज कुमार, माननीय सदस्य, बिहार विधान सभा, पटना का परिवाद जो सीधे अपर मुख्य सचिव, समाज कल्याण विभाग, बिहार पटना को संबोधित है एवं प्रतिलिपि जिला पदाधिकारी, मधुबनी को दी गई है। जिसके आलोक में जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा त्रि-स्तरीय जांच टीम का गठन किया गया है। जिसमें भूमि सुधार उप समाहत्र्ता, मधुबनी, अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, बेनीपट्टी तथा अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, सदर मधुबनी को नामित किया गया है।जांच टीम को जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा निदेश दिया गया है कि परिवाद पत्र में उल्लिखित बिंदुओं की विन्दुवार विस्तृत जांच कर जांच प्रतिवेदन अपने मंतव्य के साथ अधिकतम 3 दिनों के अंदर समर्पित करेें। जांच का मुख्य बिंदु आंगनवाड़ी सेविका/सहायिका के चयन में अनियमितता की शिकायत से संबंधित है। जबतक जांच टीम द्वारा अपना प्रतिवेदन समर्पित नहीं कर दिया जाता है एवं समुचित निर्णय नहीं ले लिया जाता है, तबतक के लिए बिस्फी परियोजना में सेविका/सहायिका के चयन प्रक्रिया पर रोक लगाई गयी है। यह आदेश तात्कालिक प्रभाव से लागू होगा।

 

2. मधुबनी – जिला पदाधिकारी द्वारा किसानों की समस्याओं को दूर करने के लिए समुचित कार्रवाई हेतु अनुरोध

मधुबनी / शीर्षत कपिल अशोक जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा कृषि उत्पादन आयुक्त, बिहार पटना तथा गन्ना आयुक्त, गन्ना उद्योग विभाग, बिहार पटना को पत्र के माध्यम से मधुबनी जिला अंतर्गत जयनगर अनुमंडल क्षेत्र के गन्ना किसानों की समस्याओं को दूर करने हेतु समुचित कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है।
उन्होंने पत्र के माध्यम से बताया है कि श्री लगन देव हजरा एवं अन्य ग्राम+पो-बेला, पंचायत-बेलही पश्चिम, अनुमंडल जयनगर द्वारा हस्ताक्षरित आवेदन के माध्यम से गन्ना किसानों की समस्याओं के संबंध में ध्यान आकृष्ट कराया गया है। उल्लेखनीय है कि गत वर्ष भी जयनगर अनुमंडल क्षेत्र के गन्ना किसानों से नेपाल के गन्ना मिल द्वारा गन्ना उपज का क्रय नहीं किए जाने के फलस्वरूप किसानों द्वारा विरोध प्रकट, धरना, प्रदर्शन,सड़क जाम आदि की कार्रवाई की गयी थी, जिसका निराकरण जिला प्रशासन, राज्य सरकार एवं भारत सरकार के हस्तक्षेप से किया गसा था। जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा गन्ना किसानों को गन्ना उपज की बिक्री में हो रही कठिनाई को दूर करने हेतु समुचित कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *