दरभंगा – वामदलों का संयुक्त प्रतिरोध सप्ताह देश में बढ़ती जनसमस्याओं एवं गहराते आर्थिक संकट के खिलाफ वामदलों ने खोला मोर्चा । 2.दरभंगा – भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा के जिला कार्यसमिति की बैठक । 3.दरभंगा – देश की स्थिति और मुस्लिम नेतृत्व की मायूसी के विषय पर काॅन्फ्रेंस एवं अंतर्राष्ट्रीय कवि सम्मेलन 17 अक्टूबर

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

ब्यूरो- अजित कुमार सिंह

दरभंगा /वामपंथी पार्टियों के राष्ट्रीय आवाह्न पर दरभंगा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी लालबाग कार्यालय में सीपीआई, सीपीआईएम, भाकपा माले एवं एस यू सी आई सी की संयुक्त बैठक अविनाश कुमार ठाकुर  के अध्यक्षता में 10 से 16 अक्टूबर तक वामदलों का संयुक्त जन जागरण अभियान को सफल बनाने हेतु विभिन्न स्तर पर जन जागरण का निर्णय लिया है।जिसके तहत 14 से 15 अक्टूबर तक विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ सभा एवं 16 अक्टूबर को कर्पूरी चौक लहेरियासराय में देश में गहराते आर्थिक संकट एवं बढ़ती जन समस्याओं के खिलाप महाधरना का आयोजन किया जाऐगा। महाधरना के माध्यम से देश में रोजगार उत्पन करने के लिऐ सार्वजनिक निवेश में बढो़तरी, बढो़तरी नही होने तक-बेरोजगार यूवाओ को भत्ता देने ’18 हजार रूपया प्रतिमाह न्यूतम बेतन की गारंटी, सरकार इस बात के गारंटी करे की जिन मजदूरो को हाल में नौकरी से बाहर किया है उनको मासिक जीवन-यापन भत्ता का भुगतान करें, सार्वजनिक क्षेत्र का नीजिकरण तत्काल प्रभाव से बंद हो, सामरीक एवं कोयला क्षेत्र में 100% फिसदी विदेशी प्रत्यक्ष नीवेश(एफडीआई) आदेश वापस हो, भारतीय संचार निगम, भारतीय रेलवे इंजन ऐयर, आँडिनेंश फैक्टरियों के निजीकरण के प्रकिया पर रोक लगें, मनरेगा को दी जाने वाली राशी में बढो़तरी हो पिछले बकाया का निपटारा हो और निर्धारित न्युंतम बेतन 200 दिन की गारंटी हो, कृर्षी संकट का निदान एवं आत्म हत्या को रोकने के लिऐ कर्ज की माफी और कृषि में सरकारी निवेश हो एवं लागत मूल्य के डेढ़ गुना न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा तथा उसके कार्यान्वय का पुख्ता इंतजाम किया जाए। वृद्धों एवं विधवाओं सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि को 3000 किया जाए। दरभंगा जिला का बाढ़ सूखा आपदा क्षेत्र घोषित करते हुए सभी बाढ़ सूखा पीड़ितों को ₹10000 रुपया राहत देने की गारंटी हो एवं वार्ड सुखार बिजली संकट का स्थाई निदान करने की गारंटी हो वामदलों कि इन मुद्दों पर सरकार के विरुद्ध जन संघर्ष चलाने का निर्णय लेगा। बैठक में सीपीआई जिला सचिव कामरेड नारायण जी झा, भाकपा जिला कार्यकारिणी सदस्य कामरेड राजीव कुमार चौधरी, विश्वनाथ मिश्र, ब्रज भूषण सिंह, कामरेड श्यामा देवी, शरद कुमार सिंह, सीपीआईएम के जिला सचिव मंडल सदस्य दिलीप भगत, गोपाल ठाकुर, भाकपा माले के जिला सचिव बैजनाथ यादव, भूषण मंडल, यूसीसीआईसी के सुरेंद्र दयाल सुमन एवं जिला सचिव लाल कुमार आदि ने जन जागरण अभियान को सफल बनाने के लिए मूल रूप से विचार व्यक्त किऐ।

2.दरभंगा – भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा के जिला कार्यसमिति की बैठक

दरभंगा /जिला अध्यक्ष डॉ धर्मशीला गुप्ता के अध्यक्षता में लहेरियासराय के हनुमान मंदिर के प्रांगण में सम्पन्न हुई।
बैठक को संबोधित करते हुये डॉ गुप्ता ने जानकारी दी कि पार्टी का संगठनात्मक पर्व अभी चल रहा है, प्रत्येक बूथ पर जिस प्रकार उत्साह पूर्वक महिलाओं ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की है,ठीक उसी प्रकार प्रत्येक पंचायत में कम से कम 5 महिलाओं को पार्टी की सक्रिय सदस्यता दिलाई जाय, 2020 बिधान सभा चुनाब से पूर्व प्रत्येक घर से महिलाओं को पार्टी में जोड़ने के लिये महिला मोर्चा की कार्यकर्ता घर – घर जाये और उन्हें दल से जोड़ने के साथ – साथ पार्टी द्वारा महिलाओं के विकाश, सशक्तिकरण एवं उत्थान के लिये हो रही कार्यो को जन – जन तक पहुँचाये।बैठक में महिला मोर्चा की प्रखंड अघ्यक्षो की ओर से एक प्रस्ताव रखा गया कि मोर्चा की वर्तमान जिला अध्यक्ष डॉ धर्मशीला गुप्ता पिछले 20 वर्षो से संगठन में भिन्न – भिन्न दायित्वों का ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करती रही है, जिला अध्यक्ष से प्रदेश उपाध्यक्ष, एवं निगम पार्षद से लेकर, सिंडिकेट एवं स्वास्थ्य समिति के सदस्य तक सभी पदों पर निष्ठा भाव से अनवरत काम करती रही है इसलिये 2020 में होने वाली शिक्षक स्नातक क्षेत्र हेतु होने वाले विहार बिधान परिषद के चुनाव में डॉ गुप्ता को राजग गठबंधन के समर्थन से उम्मीदवार बनाई जाय, ध्वनि मत से इस प्रस्ताव का सबों ने समर्थन किया। साथ ही निर्णय लिया गया कि इस आशय की जानकारी प्रदेश नेतृत्व को अविलंब दी जाय।

 

3. दरभंगा में देश की वत्र्तमान स्थिति और मुस्लिम नेतृत्व की मायूसी के विषय पर काॅन्फ्रेंस एवं अंतर्राष्ट्रीय कवि सम्मेलन 17 अक्टूबर को


दरभंगा /इन दिनों देश की हालत किसी से छुपी हुई नहीं है। विशेष कर मुस्लिम समुदाय के साथ पूरे देश में एकतरफा हमला किया जा रहा है और हर स्तर पर टार्गेट कर मुसलमानों को दूसरे दर्जे को नागरिक बनाने की साजिश रची जा रही है। बड़े पैमाने पर मुसलमानों के अंदर खौफ और दशहत का माहौल बनाया जा रहा है जो बहुत ही गंभीर मामला है। आल इंडिया मुस्लिम बेदारी कारवाँ ने 17 अक्टूबर, 2019 को सर सैयद डे के अवसर पर ‘‘देश की वत्र्तमान स्थिति एवं मुस्लिम नेतृत्व की मायूसी’’ के विषय पर काॅन्फ्रेंस एवं अंतर्राष्ट्रीय कवि सम्मेलन कराने का फैसला किया है। काॅन्फ्रेंस दरभंगा शहर के मिल्लत काॅलेज के काॅन्फ्रेंस हाॅल में दिन के 2ः30 बजे से शुरू होगा। वहीं 17 अक्टूबर को ही रात्रि 8ः30 बजे से अंतर्राष्ट्रीय कवि सम्मेलन को आयोजन केवटी प्रखंड के खिरमा-पथरा हाई स्कूल मैदान में किया जायगा। कार्यक्रम का उद्घाटन माननीय राज्यसभा सांसद प्रो0 मनोज कुमार झा जी करेंगे। जब्कि मुख्य अतिथि के रूप में अलीनगर विधानसभा के विधायक पूर्व विपक्ष नेता व पूर्व मंत्री बिहार सरकार अब्दुल बारी सिद्दीकी उपस्थित होंगे। सम्मानित अतिथि के रूप में पूर्व केन्द्रीय मंत्री भारत सरकार डा0 शकील अहमद शामिल होंगे। वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में युवा राजद के बिहार प्रदेश अध्यक्ष कारी सोहैब एवं विस्फी विधानसभा के विधायक डा0 फैयाज अहमद शिरकत करेंगे। कार्यक्रम की तैयारी तेजी से चल रही है। कार्यक्रम की अध्यक्षता बेदारी कारवाँ के अध्यक्ष नजरे आलम करेंगे और संचालन तारिक इक़बाल करेंगे। कार्यक्रम की विस्तार से जानकारी देते हुए संयोजक डा0 आफताब आलम ने बताया के काॅन्फ्रेंस के विषय पर जो विशेष वक्ताओं को आमंत्रित किया गया है उनमें प्रो0 एस.एम. रिजवानुल्लाह (उर्दू विभागाध्यक्ष, मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा), प्रो0 जफर हबीब (पूर्व उर्दू विभागाध्यक्ष, मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा), प्रो0 आफताब अशरफ (एम.एल.एस.एम. काॅलेज, दरभंगा), प्रो0 मो0 रहमतुल्लाह (प्राचार्य, के.एस. काॅलेज, दरभंगा), अशरफ स्थानवी (वरिष्ठ पत्रकार, लेखक), प्रो0 मुनेश्वर यादव (सी.सी.डी.सी. मिथिला वि0वि0, दरभंगा), असफर फरीदी, प्रो0 मो0 इफतेखार, प्रो0 खालिद सज्जाद, डा0 मंजर सुलेमान, शकील अहमद सलफी एवं नौशाद आलम के नाम शामिल हैं। काॅन्फ्रेंस का मुख्य स्पीच वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक अहमद जावेद देंगे। अंतर्राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के संयोजक अधिवक्ता सैफुल इसलाम एवं कवि सम्मेलन कमिटि के सचिव शमसे आलम ‘पप्पु’ ने अंतर्राष्ट्रीय कवि सम्मेलन में उपस्थित होने वाले देश एवं विदेश के कवियों का नाम बताया जिसमें कलीम कैसर, जौहर कानपुरी, शबीना अदीब, अलताफ जिया, सज्जाद झंझट, साकिब हारूणी नेपाली, दानिश गजल, राधिका मित्तल, तबरेज हाशमी, फैयाज फैजी नेपाली, प्रो0 शाकिर खलीक, असरार दानिश, सुलतान शमसी, इरफान पैदल, शर्फुद्दीन साहिल, शाहिद अदबी, आसिफ हिन्दुस्तानी के नाम शामिल हैं। कवि सम्मेलन की तैयारी भी जोरों से चल रही है। कवि सम्मेलन का संचालन कोलकाता की मशहूर कवित्रि ओरूसा अर्शी करेंगी। सम्मेलन को कवरेज करने के लिए मुशायरा मिडिया, जे.के. मिडिया, लाइव मुशायरा मिडिया भी आ रहे है। दोनों कार्यक्रम के संयोजक ने मिथिलांचल की अमन पसंद जनता एवं बुद्वजिवीयों से अपील करते हुए कहा कि अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर कार्यक्रम को सफल बनायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please wait...

Subscribe to our news

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.