मधुबनी – जल जमाव एवं जल निकासी हेतु की जा रही कार्रवाई जिला पदाधिकारी ने किया निरीक्षण

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

रिपोर्ट – न्यूज़ डेक्स

 

मधुबनी /  जिला पदाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा विगत तीन दिनों से मधुबनी जिला के शहरी क्षेत्र में हो रही लगातार वर्षापात से उत्पन्न स्थिति, जल जमाव एवं जल निकासी हेतु नगर नगर परिषद, मधुबनी द्वारा की जा रही कार्रवाई की समीक्षा की गई एवं स्थल निरीक्षण किया गया।

स्थल निरीक्षण के क्रम में  सुनील कुमार सिंह अनुमंडल पदाधिकारी सदर , श्रीमती रेणु कुमारी प्रभारी पदाधिकारी जिला आपदा प्रबंधन कोषांग,  आशुतोष कुमार कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद,  मनीष कुमार वार्ड पार्षद एवं नगर परिषद के अन्य कर्मी उपस्थित थे।
स्थल निरीक्षण के दौरान ऑफिसर्स काॅलोनी , सदर अस्पताल, जलधारी चौक, थाना चौक, 12 नं0 रेलवे गुमटी, खादी भंडार,  स्टेडियम चौक, वाटसन कैनाल-राज कैनाल संगम स्थल एवं भच्छी स्थित जीवछ साईफन का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में वाट्सन कैनाल एवं विभिन्न नालों में जलकुंभी जमा होने, कचरा के जमा होने से जाम की स्थिति पाई गई, जिससे पानी का बहाव धीमा पाया गया।
स्थल निरीक्षण के दौरान कुछ जगहों पर नगर परिषद के कुछ कर्मियों द्वारा जे0सी0बी0 मशीन की मदद से नाला की सफाई का कार्य करते हुए पाया गया, परंतु मजदूरों की संख्या काफी कम थी। एक ही जे0सी0बी0 मशीन से कार्य किया जा रहा था। कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद के द्वारा बताया गया कि विभागीय जे0सी0बी0 खराब है।
जिला पदाधिकारी के द्वारा स्थल निरीक्षण के दौरान कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद को अविलंब 2-3 जे0सी0बी0 से नाला की सफाई का कार्य प्रारंभ करने, मजदूरों की संख्या काफी कम होने के कारण 15-20 अतिरिक्त मजदूरों को विभिन्न स्थलों पर लगाकर कचरा की उड़ाही करने ऑफिसर्स काॅलोनी एवं सदर अस्पताल के पानी की निकासी हेतु सदर अस्पताल के नजदीक पंचवटी चौक, लाहोनगर चौक, खादी भंडार नाला की सफाई अविलंब कराने का निदेश दिया गया।
साथ ही उन्होंने निदेश दिया कि 12 नं0 रेलवे गुमटी से लेकर भच्छी स्थित जीवछ साईफन तक वाटसन कैनाल की सफाई जे0सी0बी0 मशीन एवं मजदूरों से कराना सुनिश्चित करें। जलजमाव से निपटने के लिए कई जगहों पर छोटी-छोटी योजनाओं को लेकर कार्य कराने की आवश्यकता प्रतीत हो रही है। ऐसे में कार्यपालक पदाधिकारी अविलंब योजनाओं को लेकर कार्य कराना सुनिश्चित करें। निरीक्षण के दौरान कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद द्वारा बताया गया कि शहरी क्षेत्र में नाला उड़ाही एवं सफाई का कार्य लगातार कराया गया है, परंतु स्थल निरीक्षण के दौरान पाया गया कि अधिकांश जगहों पर नाला उड़ाही एवं सफाई का कार्य सही ढ़ंग से नहीं कराया गया है, जिसके कारण पूरा शहर जलमग्न की स्थिति में आ गया है। अनुमंडल पदाधिकारी, सदर मधुबनी को निदेश दिया गया कि निरीक्षण के दौरान दिए गए निदेंशों का अनुपालन कार्यपालक पदाधिकारी एवं सी0टी0 मैनेजर द्वारा किया जा रहा है, इसका पर्यवेक्षक एवं जांच करते रहेंगे।
दिनांक 29.09.2019(10ः00 बजे पूर्वा0 तक) को कमला जयनगर(वीयर) का जलस्तर 67.80 आर, कमला बलान झंझारपुर(रेल पुल) का 50.90 आर है।
दिनांक 28.09.2019(08ः30 बजे पूर्वा0 से 29.09.2019 को 08ः30 पूर्वा0 तक) को जिले के विभिन्न प्रखंडों में वर्षापात यथा-अंधराठाढ़ी-70.2, बाबूबरही-49.4, बासोपट्टी-85.6, बेनीपट्टी-51.6, बिस्फी-54.6, घोघरडीहा-51.2, हरलाखी-82.6, जयनगर-61.6, झंझारपुर-62.8, कलुआही-68.4, खजौली-68.2, खुटौना-49.6, लदनियां-61.0, लखनौर-114.2, लौकही-68.8, मधेपुर-93.2, मधवापुर-63.8, पंडौल-94.2, फुलपरास-76.6, रहिका-92.8 तथा राजनगर में 82.8 एम0एम0 हुआ है। जिले का औसत वर्षापात-71.3 प्रतिशत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *