दरभंगा -विश्व हिंदू परिषद के दो मुख्य मूल्य मंत्र हिंदू सर्वो सहोदरा ना हिंदू पति तो भावा बजरंग दल

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

ब्यूरो – अजित कुमार सिंह

दरभंगा / विश्व हिंदू परिषद के दो मुख्य मूल्य मंत्र हिंदू सर्वो सहोदरा ना हिंदू पति तो भावा बजरंग दल जिला संयोजक राजीव प्रकाश मधुकर शिशु पूर्वी पंचायत सदर प्रखंड के करकौली पंचायत ब्रह्मस्थान के प्रांगण में विश्व हिंदू परिषद की 55 वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस कार्यक्रम का अध्यक्षता करते बजरंग दल के प्रखंड संयोजक सुरेंद्र साहनी एवं मिथिलेश सोनी इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बजरंग दल जिला संयोजक राजीव प्रकाश मधुकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचार प्रमुख रुद्र नारायण एवं सहसंयोजक धर्म कुमार मिलन केंद्र प्रमुख सुमित कुमार राय एवं गांव के मुखिया सरपंच के द्वारा दीप प्रज्वलित कर और भारत माता और राम अशोक सिंघल और सदाशिवराव गोलवलकर जी डॉक्टर से बोली राम जी के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम को शुरू किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राजीव प्रकाश मधुकर के द्वारा अपने मार्गदर्शन में विश्व हिंदू परिषद के अतिथियों को बताया गया। विश्व हिंदू परिषद की स्थापना 1963 में केशवराम का शीरा शास्त्री जी जय चम चम राज ढाबा बहादुर मास्टर तारा सिंह अशोक सिंघल जी ने देखा कि देश के अंदर हिंदू समाज के साथ जो पीड़ा और कष्ट देखा उन लोगों से बर्दाश्त नहीं हुआ। उसके बाद 29 अगस्त 1964 दिल्ली में विश्व हिंदू परिषद की स्थापना की गई इस विश्व हिंदू परिषद की नेतृत्वकर्ता अशोक सिंघल थे और अशोक सिंघल अपने कार्यकाल में बहुत ही अच्छा विश्व हिंदू परिषद का कार्य भार को देखा, विश्व हिंदू परिषद के अंगों में क्षेत्रों में कार्य चल रहा है पूरे विश्व में विश्व हिंदू परिषद का काम चलाया जा रहा है ।

विश्व हिंदू परिषद का कार्य चिकित्सा के क्षेत्र में शिक्षा के क्षेत्र में एवं कार्य अर्थ के क्षेत्र में भी कार्य चला रहा है ।इस कार्यक्रम में उपस्थित मोहनबाड़ी पिंटू कुमार मनीष जयसवाल रामगुलाम सोनी महेंद्र सोनी एवं रामबाबू सोनी और गांव के पूर्व मुखिया इंद्र सिंह बलिराम सिंह नंद किशोर सिंह सुरेंद्र दास शंभू कुमार सा पंचायत समिति एवं घाटिया के रामबाबू पासवान पंकज पासवान सिंघवारा प्रखंड के अध्यक्ष जितेंद्र कुमार राय प्रखंड मंत्री कौशल किशोर यादव एवं पूरे हिंदू समाज करौली पंचायत के इस कार्यक्रम में शामिल हुए ,इस कार्यक्रम की समाप्ति महा आरती भारत माता की एल्बम राम भगवान की कर भजन गाकर समाप्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *