दरभंगा – पेट्रोल पंप मालिक उड़ाही है, परिवहन नियम का मजाक । । दरभंगा /2 .दरभंगा -अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला सम्मेलन

बिहार हलचल न्यूज ,जन जन की आवाज

ब्यूरो – अजित कुमार सिंह

दरभंगा  – जिला परिवहन कार्यालय दरभंगा के द्वारा दो पहिया वाहन और चार पहिया वाहन हैं। उनको जिला परिवहन कार्यालय के द्वारा आदेश दिया गया है। कि बिना हेलमेट के पेट्रोल नहीं दिए जाने के संबंध में उपयुक्त विषय के संबंध सूचित करना है कि सभी दो पहिया वाहन जो पेट्रोल पंप पर तेल लेने आते हैं। ऐसे सभी दोपहिया वाहन चालकों को बिना हेलमेट के तेल की आपूर्ति नहीं की जाए साथ ही साथ चार पहिया वाहन के चालकों को सीट बेल्ट लगे रहने के उपरांत ही पंप से तेल की आपूर्ति देना सुरक्षित किया जाए फिर भी ना तो पंप के मालिक मानते हैं। इस नियम को और ना ही लोग बिना हेलमेट के पेट्रोल पंप पर जाकर पेट्रोल लेते हैं और पेट्रोल पंप के मालिक बेधड़क उनको पेट्रोल देते हैं आदेश और नियम का पालन कौन करें इसकी जिम्मेदारी किसी में नहीं दिख रही नियम कानून तो सरकार की तरफ से काफी निकलती है।लेकिन उसको फॉलो करने के लिए कोई भी आगे नहीं आते हैं। और जब कोई बड़ी दुर्घटना होती है तो लोग पुलिस प्रशासन और सरकार को कोशते हैं। जब जिला परिवहन पदाधिकारी विरेंद्र प्रसाद से पूछताछ की गई तो उन्होंने मामले को संगीन रूप से लिया और मामले की जांच करने का अस्वासन दिया ।

2 .दरभंगा -अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला सम्मेलन

दरभंगा /अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला सम्मेलन की दरभंगाा शाखा द्वारा शुभंकरपुर मध्य विधालय में छात्राओं के लिए एक वेंडिंग (सेनेटरी नैपकिन) मशीन लगायी गयी। जिसका उद्घाटन दरभंगा शहर के डिस्ट्रिक्ट प्रोजैक्ट ऑफीसर संजय कुमार देव द्वारा किया गया। संजय जी ने कहा कि इस काम के लिए हरेक स्कूल में शिक्षिकाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। लड़कियों में माहमारी के समय जो झिझक होती है उस झिझक को दूर करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।इस संदर्भ में समिति की अध्यक्षता नीलम पंसारी ने कहा कि स्वच्छता अभियान के तहत मेंस्टुअल हाइजीन को सही रखने के लिए ये मशीन लगायी गयी है।स्वास्थ्य ही सर्वोपरि है, माहमारी में गन्दा कपड़ा ब्यवहार करने से कई प्रकार कि बिमारियों की सम्भावना रहती है। आगे भी दो- तीन विधालयों में ये मशीन लगायी जायेगी। समिति की महासचिव मधु सरावगी ने मेंस्टुअल हाइजीन पर विस्तार से बताया साथ ही मशीन के लाभ भी गिनाये।प्राचार्या मीरा जी ने पदाधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा की स्कूल की छात्राएँ अध्ययन रट हैं जिन्हें इस सुविधा का लाभ मिलेगा।

स्कूल में वेंडिंग मशीन के साथ-साथ बच्चों को बैठने के लिए तीन दडी ,दो डस्टबिन तथा एक तिरपाल भी दिया गया। कार्यक्रम में महिला सशक्तिकरण प्रमुख स्वीटी केडिया,किरण बूबना,प्रेरणा लाठ,राधा पोद्दार,बाल-विकास प्रमुख पूजा केडिया ,नीलम चौधरी,श्वेता लाठ ने सहयोग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *